वो डेरी डेन की शाम, वो फतेहगंज/सेफ्रोन का जाम,
वो एम.एस. यूनिवर्सिटी की मस्ती, वो सिन्धरोत की कश्ती,

वो चोकोलेट रूम की पेस्ट्री, वो सी.सी.डी की कोफ़ी,
वो आइनोक्स को मूवी, वो ७सीस की शोपिंग,

वो यूनिवर्सिटी वाली सड़के, जहा थे कितने के दिल धडके,
वो विश्वामित्री का लेक, वो गुड्डीस का केक,

वो स्कुल लाइफ और वो टीनेज की बातें,
ऐसी ही है कुछ हमारे बरोडा की यादें

Source : Forwarded SMS